आरसेटी की बैठक, उपायुक्त ने अधिक से अधिक संख्या में स्वरोजगार प्रशिक्षण हेतु सम्मिलित करने का दिया निर्देश

0
271
आरसेटी के एनुअल एक्टीविटी रिपोर्ट 2017-18 का भी विमोचन करते उपायुक्त व अन्य उपस्थित पदाधिकारी

उपायुक्त मृत्युंजय कुमार बरणवाल की अध्यक्षता में ग्रामीण स्वनियोजन प्रशिक्षण संस्थान (आरसेटी) की बैठक कार्यालय कक्ष में आयोजित की गई। उपायुक्त बरणवाल ने कहा कि आरसेटी के तहत् ग्रामीणों को अधिक से अधिक संख्या में स्वरोजगार प्रशिक्षण हेतु सम्मिलित करें तथा उन्हें स्वरोजगार भी सुनिश्चित करायें।
उपायुक्त बरणवाल ने कहा कि आरसेटी के द्वारा वित्तीय वर्ष 2017-18 में 783 लोगों को स्वरोजगार हेतु प्रशिक्षित किया गया, जिनमें 618 लोगों को रोजगार से जोड़ा गया। उन्होंने कहा कि मुख्यरूप से पापड़, आचार, मसाला बनाने, टेलरिंग, कम्प्युटर प्रशिक्षण, बकरी पालन, मुर्गी पालन, सुकर पालन, बाँसों की कलाकारी, ब्युटी पार्लर मैनेजमेंट तथा अगरबती उत्पादन का प्रशिक्षण आरसेटी के द्वारा दिया जाना चाहिए। इससे स्वरोजगार भी बढता है तथा लोगों का जीवन स्तर भी ऊँचा होता है।उपायुक्त बरणवाल ने जिला के कृषि, पशुपालन, गव्य विकास, किसान विज्ञान केन्द्र, मत्स्य पालन से संबंधित विभागों के द्वारा दिये जाने वाले प्रशिक्षण को भी आरसेटी के साथ समन्वय स्थापित करते हुए स्वरोजगार के अवसर बढाने की बात कही। उन्होंने इस हेतु जिला कौशल विकास समन्वयक तथा एसप्रेशनल डिस्ट्रीक के समन्वयक को बैकों तथा लाईन विभागों के साथ समन्वय स्थापित कर कार्य करने का निर्देश दिया।
बैठक के दौरान आरसेटी के एनुअल एक्टीविटी रिपोर्ट 2017-18 का भी विमोचन उपायुक्त मृत्युंजय कुमार बरणवाल एवं आंचलिक प्रबंधक बैक आॅफ इण्डिया सत्य रणबाबू तिगावारापु तथा अन्य उपस्थित पदाधिकारियों के द्वारा किया गया।
इस दौरान डीडीएम नाबार्ड अजय साहू, एलडीएम बोकारो अशर्फी पासवान, जिला गव्य विकास पदाधिकारी सुरेन्द्र मोहन कटियार, जिला पशुपालन पदाधिकारी डाॅ0 अरूण कुमार सिन्हा, वरीय वैज्ञानिक के.बी.के उदय कुमार सिंह, जिला मत्स्य पदाधिकारी शंभु प्रसाद यादव, जिला कृषि पदाधिकारी राजीव कुमार मिश्रा आदि उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here