वार्षिकोत्सव में छात्र-छात्राओं ने पेश किया नृत्य व संगीत

0
460

चिन्मय विद्यालय में मना वार्षिकोत्सव

बोकारो: चिन्मय विद्यालय के स्वामी तपोवन सभागार में रंगारंग वार्षिकोत्सव (नर्सरी से कक्षा आठवीं) का आयोजन हुआ। इस अवसर पर नन्हें-मुन्हें बच्चों ने अपने बेहतरीन प्रदर्शन से सभागार में मौजूद दर्शकों का मन मोह लिया। कार्यक्रम की मुख्य अतिथि चिन्मय मिशन, बोकारो की आचार्या स्वामिनी संयुक्तानंद जी थी। कार्यक्रम की शुरुआत दीप प्रज्जवलन से हुई। इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि के रुप में बिजनेस एनालिस्ट ग्रुप के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रुनू बागची एवं उपाध्यक्ष रुचीका मुखर्जी मौजूद थे। साथ में विद्यालय के अध्यक्ष, विश्वरुप मुखोपाध्याय भी कार्यक्रम मौजूद थे और उन्होंने वार्षिकोत्सव कार्यक्रम की तारीफ की।

राजस्थानी नृत्य पेश कर बच्चो ने मोहा मन 


इस कार्यक्रम में भारतीय सभ्यता एवं संस्कृति के अनेक रुप और रंग में प्रस्तुत किया गया। गणेश वंदना, लोक गीत, शिव तांडव, राजस्थानी नृत्य ने जहाँ एक ओर दर्शकों को झूमने पर मजबूर कर दिया, वहीं संम्पूर्ण रामायण नृत्य नाटिका, जनसंख्या विस्फोट जैसे नाटकों ने समसामयिक घटनाओं और मुद्दों को उठाया। नन्हें-मुन्ने बच्चों द्वारा प्रस्तुत नृत्य बम-बम बोले और  वंदना-शिव तांडव ने खूब तालियाँ बटोरी। सभी आगंतुको का स्वागत प्राचार्य डॉ अशोक सिंह ने स्वागत भाषण देकर किया।

बच्चों में हर तरह की प्रतिभा छिपी होती है 

सभी अभिभावकों एवं छात्रों को अपने संबोधन में मुख्य अतिथी स्वामिनी संयुक्तानंद ने कहा की असफलता ही सफलता का पहला सोपान है। कई बच्चे पठन-पाठन में उत्कृष्ट प्रदर्शन ना कर पाए तो अभिभावकों को हताश नहीं होना चाहिए। उन्हें प्रयास कर अपने बच्चों को अन्य हुनर या विधाओं को ढूढँना चाहिये और तराशना चाहिये। सभी बच्चों समाना नहीं होते। चिन्मय विद्यालय अपने छात्रों के समग्र विकास के लिये कटिबद्ध है और यही बच्चे भारत के स्वर्णिम भविष्य के सूत्रधार बनेंगें। इस मौके पर आई एम ओ और एन सी ओ में जोनल के विजेताओं को पुरस्कृत किया गया। अंत में धन्यवाद ज्ञापन उप-प्राचार्य ए के झा ने दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here